First glimpse of Ram lalla: रामलला की पहली तस्वीर आई सामने, क्या-क्या विशेषता है पहली मूर्ति में जानिए, पूरी विशेषता मूर्ति की ।

First glimpse of Ram lalla: रामलला की एक 5 वर्षीय उम्र वाली मूर्ति का फोटो सामने आया हैं जिसमे रामलला बहुत हु सुन्दर दिख रहे हैं और इस मूर्ति में रामलला की अखो पर पीले रंग की पट्टी लगी है, बतया जा रहा है की ये रामलला की बचपन की मूर्ति जी जब वो 5 वर्ष के थे तब वो ऐसे दिखते थे ।

रामलला की इस मूर्ति में क्या-क्या खास विशेषता है आप इस पूरे पोस्ट में जन सकते है फिर आपको ये पोस्ट पूरा पढ़ना होगा तो आइए जानते हैं रामलला की इस मूर्ति की विशेषता ।

First glimpse of Ram lalla

तो आइए जानते हैं की इस रामलला की मूर्ति को बनते समय किन-किन बातों को ध्यान रखा गया है क्या-क्या खास है इस मूर्ति में, कौन-कौन से वस्त्र है आसान की क्या विशेषता है किस तरह जब इस मूर्ति को बनाया जा रहा था थी इनकी सभी विशेषता को देखा गया और भी बहुत कुछ आप इस पोस्ट में जान सकते हैं आइए जानते हैं ।

बताया जाता है की ये मूर्ति की तस्वीर जो हैं वो भगवान राम की बलस्वरूप की है जब भगवान बाल्यावस्थ में थे तब की ये तस्वीर है जो गर्भगृह के लिए बनया गया है ।

आसान की विशेषता

भगवान श्री राम प्रभु जिस आसान पर विरजमान है वह आसान उस आसान को कमाल पुष्प कहते है, भगवान श्री राम कमलासन पर खड़े है विरजमान है जैसे कि आप तस्वीर में देख रहे हैं ।

आभामंडल की विशेषता

जब आप मूर्ति की चारों तरफ देखते है तो आपको एक गोलाकार दिखाई देता है उसे आभामंडल कहा जाता हैं जब आप ध्यान से देखेंगे तो आप देखेंगे की नीचे की तरफ दाहिनी ओर श्री गरुर जी महाराज विरजमान हुए हैं और बाइए ओर से हनुमान जी विराज हुए है कहा जाता है की हिंदुआ के मंदिर में इन दोनों को पहरदार के रूप में मन जाता है । ज्यादातर दक्षिण भारत में आप देखेंगे की इन भवगन की तस्वीर मंदिर के द्वार पर ही बनाया जाता हैं और एक हनुमान की चौपाई भी हैं की “राम दुआरे तुम रखवारे” ।  

जब आप आभामंडल के ऊपर की ओर देखेंगे तो आप देखेंगे की 5-5 मूर्ति दोनों साइड दिखाई देगी, ये भगवान के दस अवतार की चित्र है, भगवान ने जो दस अवतार लिए हैं सबकी वयाख्या की गई हैं । और इसके ठीक ऊपर आप देखेंगे तो आपको ॐ शंख और चक्र बना हुआ है दाहिने की तरफ में ये भगवान के दिव्य आयुद है नित्य आयुद है ।

First glimpse of Ram lalla
——First glimpse of Ram lalla——

श्री राम भगवान के मुख्य के ठीक ऊपर भगवान सूर्य नारायण बिराजित है, भगवान रामलला की ये तस्वीर करोड़ों काम देव की शोभा को बिलजीत करने वाला और स्यामल शरीर है बिल्कुल कोमल शरीर है।

रामलला की शरीर की विशेषता

भगवान श्री रामलला की शरीर स्यामल शरीर है बिल्कुल कोमल, ये मूर्ति बिल्कुल उस तरह से बनाया गया है जिस तरह शात्रों में वर्णन है बिल्कुल उसी को ध्यान में रख के बनाया गया हैं । भगवान की ये तस्वीर है इसमे मेघ की सायंता है । समुंत मस्तक है भगवान का और शुचिकन कपोल है भगवान श्री राम की गाल बिल्कुल चिकना सा है, और नाशिक बहुत ही सुन्दर है और एक मीठी सी मुस्कान है बिल्कुल एक छोटे बालक के जैसा जब कोई बालक हसता है तो कैसे किसी को मोह लेता हैं बिल्कुल हमारे प्रभु श्री राम ऐसा ही थे बचपन में ।

जैसा भगवान श्री राम का वर्णन शात्रों में है बिल्कुल वैसा ही छबि बनया गया है कान में कुंडल है और गले में मणियों की मला है भगवान मणियों की मला पहनते थे और लंबी भुजा है भगवान को आजंबाहु कहे जाते थे ।

आप देखेंगे की भगवान के एक हाथ में धनुष होंगे जो अभी तस्वीर में नहीं है लेकिन बाद में आ जाएंगी और दूसरी हाथ से भगवान आशीर्वाद दे रहे हैं । और जब आप भवन के उदर पर नजर डालेंगे तो आप देखेंगे की तीन रेखाए है और घहरी नाभि और जो कमर है उसमे भगवान किंकनी पहने है ।

शात्रो का वर्णन

भगवान श्री राम का जिस तरह शात्रों में वर्णन किया गया हैं , गोस्वामी श्री तुलसी दस जी जिस तरह से अपने रामायण में भगवान का वर्णन कीये हैं हूबहू वैसा ही भगवान श्री राम की छबि उतरी गई है आप अगर शात्रों को जानेंगे तो आप मिला पाएंगे की छबि में क्या क्या विशेषता महत्वपूर्ण हैं ।  

इसे भी पढे : अल्ट्राटेक सेमेन्ट कॉम्पनी को तिमाही मे 67% का मुनफ़ा हुआ है जानिए शेयर प्राइस

Telegram Group Join Now
Instagram Group Follow Us

1 thought on “First glimpse of Ram lalla: रामलला की पहली तस्वीर आई सामने, क्या-क्या विशेषता है पहली मूर्ति में जानिए, पूरी विशेषता मूर्ति की ।”

Leave a Comment