30 जनवरी: गांधी जी की 76वी पुण्यतिथि आज, गांधी को सबसे पहले बापू कौन बोला था ।

महात्मा गांधी की पुण्यतिथि हर साल 30 जनवरी को मनाया जाता है और साथ में ही इस दिन 30 जनवरी को शाहिद दिवस के रूप में भी मनाया जाता है ।

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को आज ही के दिन 30 जनवरी 1948 को नाथुराम गोडसे ने गोली मार दी थी

जब महात्मा गांधी दिल्ली के बिड़ला हाउस में प्राथना सभा के लिए जा रहे थे उसी टाइम में नाथुराम गोडसे ने गांधी जी को गोली मार दी थी ।

आइए जानते है की महात्मा गांधी भारत (Mahatma Gandhi) के राष्ट्रपिता कैसे बने, महात्मा गांधी को पहली बार किसने राष्ट्रपिता कहकर पुकारा था,

सुभाष चंद्र ने सबसे पहले महात्मा गांधी जी को राष्ट्रपिता कहकर पुकार था जब रंगून रेडियो स्टेशन में 6 जुलाई 1944 को अपने भाषण में सुभाष ने गांधी जी को राष्ट्रपिता कह कर बुलाया था

सुभाष चंद्र बॉस ने कहा था “हमरे राष्ट्रपिता, भारत की आजादी की पवित्र लड़ाई में मैं आपके आशीर्वाद और शुभकामनाओ की कामन करता हु ।”

महात्मा गांधी का जन्म 2 अक्टूबर 1869 को गुजरात के पोरबंदर में हुआ था गांधी जी के पिता जी के नाम करमचंद गांधी और माता जी का नाम पुतलीबाई था,

गांधी जी के दो भाई और एक बहन थी जिसमे गांधी सबसे छोटे थे । मोहनदास बचपन से धार्मिक थे वह पढ़ाई में ज्यादा अच्छे नहीं थे लेकिन अंग्रेजी में काफी निपुण थे ।

गांधी जी का जन्म गुजरात तट पर एक हिन्दू परिवार में पैदा हुए और फिर गांधी ने लंदन के इनर टेंपल में लॉ की पढ़ाई की जिसके बाद 1893 में एक भारतीय का प्रतिनिधित्व करने के लिए दक्षिण अफ्रीका गए

महात्मा गांधी जी ने अपना फेस चेंज कर लिए थे इलेक्शन के लिए जिसके बाद वो ऐसा दिखते थे ।