शिवाजी का जन्म 19 फरवरी 1630 को शिवनेरी दुर्ग में हुआ था हार साल 19 फरवरी को छत्रपती शिवाजी महाराज का जयंती मनाया जाता है आज भारत में इनकी 392वी जयंती मनाई जा रही है

छत्रपती शिवाजी महाराज जिनका नाम सुनते ही लोगों में मोटिवेशन का प्रतिशत हाई हो जाता है शिवाजी महाराज भोसले जो एक महान शासक और रांनीतिकार हुए

जिन्होंने 1674 ईसपी में पशिम भारत में मराठा साम्राज्य की नीव रखी ये वो महापुरुष है जिनके नाम से औरंगजेब थर थर कापता था

सन 1674 में रायगढ़ में इनका राज्याभिषेक हुआ और ये छत्रपती बने, छत्रपती शिवाजी महाराज जिन्होंने सिर्फ उपदेश देने काम नहीं किया बल्कि अभ्यास में भी ला कर दिखाया

जब भी उदाहरण देने की बारी आती थी मातृभूमि की बारी आती थी तो सबसे पहले आगे खरे होते थे छत्रपती शिवाजी महाराज और अपनी साथियों के लिए सबसे बड़ा उदाहरण साबित होते थे ।

एक बार कोई काम अगर अपने किसी साथी को सौप देते थे तो उनकी पूरा भरोषा होता था की वो काम हो जाएगा शिवाजी अपने साथियों को गलतिया भी करने का पूरी छूट दे रखे थे,

वो छोटे से छोटे लोगों की बात भी बहुत गौर से सुनते थे और उत्साह के साथ उनके सुझाव को अपने सेना अपने साथियों को बताते और अपने कार्य में शामिल करते थे ।

छत्रपती शिवाजी महाराज के जीवन काल से 5 बड़ी बात सीखने वाले है नीचे लिंक पर क्लिक कर के जाने 5 बड़ी बाते ।