कौन है भारतीय क्रिकेटर Dhruv Jurel ? एक फौजी का बेटा कैसे बना क्रिकेटर, जानिए पूरी कहानी ।

23 साल का ये विकेट कीपर Dhruv Jurel उन लोगों के लिए अजनवी नहीं है जिन्होंने देश में आयु समूह क्रिकेट को करीब से देखा है । 2019 में जूरेल भारतीय अन्डर-19 सेटअप का हिस्सा थे, जहा वो प्रीयम गर्ग के नेतृत्व वाली टीम में उप-कप्तान थे । आगरा के रहने वाले जूरेल ने 2019-20 सीजन में उत्तर परदेश के लिए सेनीयर पदार्पण किया ।

Dhruv Jurel

इंडिया vs इंग्लैंड : भारत ने हाल ही में इंग्लैंड के खिलाफ शुरुआती दो टेस्ट मैच के लिए ध्रुव जूरेल को भारतीय टीम में शामिल किया है

25 जनवरी से भारत और इंग्लैंड के बीच टेस्ट सीरीज के शुरुआती दो मैच के लिए टीम में ध्रुव जूरेल को शामिल किया है, ध्रुव को घरेलू मैच में एक बहुत ही बेहतरीन रिकार्ड रहा है । और साथ में ध्रुव आईपीएल में राजस्थान रॉयल से भी खेते नजर आते है जहा वो बहुत ही अच्छा विकेटकीपर करते है ।

करीब 23 साल के ध्रुव उत्तर प्रदेश और रेस्ट ऑफ इंडिया के लिए भी खेल चुके है । एक रिपोर्ट के मुताबीत ध्रुव को उनके पिता जी ध्रुव को फौजी बनाना चाहते थे, लेकिन ध्रुव ने क्रिकेट को चुना और अपना कैरियर इसमे ही बनाने के लिए सोच ।

ध्रुव के पिता जी का क्या कहना है ?

1999 के कारगिल युद्ध में भारत के लिए लड़ने वाले एक सैन्य अधिकारी नेम सिंह जूरेल के बेटा , ध्रुव जूरेल जिनको ये फौजी बनाना चाहते थे, वो चाहते थे की मेरा बेटा फौजी बने और देश का सेवा करे, लेकिन बेटा ने अपना कैरियर क्रिकेट को चुना, और जूरेल एमएस धोनी को अपना आदर्श मानते हुए बड़े हुए और इसलिए विकेटकीपर बनाना चाहते थे क्युकी वो धोनी को बहुत मानते थे । जब उन्होंने उसी प्रतिद्वंद्वी के खिलाफ 65 रानी की शानदार पारी के बाद दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अन्डर-19 चतुष्कोणीय शीनखला के फाइनल में 101 रन बनाए, तो उन्होंने यह सुनिक्षित कर लिया था की प्रबंधन गर्ग के डिप्टी बनने के लिए उन पर भरोषा करेगा ।

बीसीसीआई

बीसीसीआई ने शुक्रवार को रात में टीम इंडिया का ऐलान करते हुए सबको चौका दिया जिसमे कई बड़े प्लेयर का नाम नहीं था, लेकिन एक नाम ने सभी को चौका दिया, और वो नाम ध्रुव जूरेल का था । ध्रुव ने डमेस्टिक क्रिकेट में बहुत ही बेहतरीन परफ़ॉर्म किया है । इसी वजह से उन्हे घरेलू मैदान पर होने वाले इस सीरीज में मौका दिया गया है । जबकि टीम इंडिया ने ईशान किशन को ड्रॉप कर दिया है , साथ में तेज गेंदबाज मोहम्मद शामी को भी जगह बनने में नाकाम रहे ।

ध्रुव की क्रिकेट कैरियर

आपको बात दे की ध्रुव ने फर्स्ट क्लास मैचों की लगभग 19 पारियों में 790 रन बनाए है । इस दौरान एक शतक और 5 अर्धशतक लगाए है । वे लिस्ट ए के 10 मैच खुल चुके है , जिसमे 2 अर्थक्षतक लगाए है ।

23 वर्षीय ध्रुव जूरेल ने अपने कैरियर में 11 प्रथम श्रेणी मैच खेले है, जिसमे 48.91 के अविशस्वानीय औसत से 587 रन बनाए है , जिसमे एक शतक और तीन अर्धशतक शामिल है । बल्ले से 249 का उच्च स्कोर बनाना उत्तर प्रदेश के लिए योग्ता और कौशल को दर्शाता है ।

Dhruv Jurel
who is Dhruv Jurel

आप इसे भी पढे : कौन है समीर रिजवी, सबसे महंगा बिके समीर आईपीएल में ?

2021 में पंजाब के खिलाफ T20 में उन्होंने 30 गेंद में 23 रन बनाए, दाए हाथ के बल्लेबाज ने अपने पवार गेम पर कड़ी मेहनत की है । सबसे छोटे प्रारूप में तीन T20 में उनका स्ट्राइक रेट 71.79 है, और उन्होंने अपने पहले ही मैच में जो पारी खेली वह 5 अप्रैल (बुधवार) से पहले उनका सर्वोच्च स्कोर था ।

इसे भी पढे : ईशान किशन और श्रेयस को बीसीसीआई ने किया बाहर ?

Telegram Group Join Now
Instagram Group Follow Us

1 thought on “कौन है भारतीय क्रिकेटर Dhruv Jurel ? एक फौजी का बेटा कैसे बना क्रिकेटर, जानिए पूरी कहानी ।”

Leave a Comment