कौन है Bihar का सचिन “Vaibhav Suryavanshi” जिसने 12 साल की उम्र में तोड़ दिया सचिन का रिकार्ड ।

बिहार के लाल ने सचिन के बड़े रिकार्ड को तोर दिया, जी हा बिहार के ‘Vaibhav Suryavanshi’ ने क्रिकेट के भगवान सचिन का रिकार्ड तोड़ दिया हैं, बिहार में रणजी ट्रॉफी हो रहा है जिसमे एक बिहार के लाल ने सचिन का रिकार्ड तोड़ दिया है और पूरे बिहार का नाम रौशन किया है ।

बिहार में रणजी ट्रॉफी

इस बार बिहार में रणजी ट्रॉफी 23 साल बाद हो रहा है और साथ में जब ये मैच ।। में शुरू हुआ तो अजीबो गरीब खबरे निकाल के आई जो बिहार वालों के लिए काफी ज्यादा दिसपोइन्ट करने वाले थे बिहार के इस मैच स्टेडियम में बिहार से खेलने के के लिए दो दो टीम आ गई एक टीम क्रिकेट बोर्ड के परिसीडेंट साहब की और दूसरी सचिव साहब की, स्टेडियम का बहुत बुरा हाल था न ही कोई साफ सफाई थी और न ही कोई देख रेख था कोई व्यवस्था नहीं थी फिर बिहार के लोग वह मैच देखने पहुचे । लेकिन इतने सारे नकरात्मक खबरे के बाद एक पाज़िटिव खबरे आई नाम था वैभव सूर्यवंसी ।

Vaibhav Suryavanshi

एक ऐसा लड़का जिसने 12 साल के उम्र में डेब्यू कर दिया और जब उसने इतने काम उम्र में डेब्यू किया तो पूरी दुनिया की नजर उसपर चल गई, हालंकी ये बलेबाज इस मैच में बहुत बड़ा तो कमाल नहीं कर पाया, एक पारी में 19 रन और दूसरी पारी में 12 रन बना के आउट हो गया लेकिन 12 साल के उम्र में डेब्यू करना बहुत बड़ा बात बन गया और लोग इनके बारे में जानने का प्रयास करने लगे ।

हम आपको बात दे की रणजी के इतिहास में ये दूसरे ऐसे है जिन्होंने सबसे काम उम्र में डेब्यू कीये है, 12 साल 2 महीने 18 दिन में इनसे पहले एक प्लेयर थे अलबबू दिन उन्होंने डेब्यू किया था और दि ग्रेट सचिन तेंडुलकर है उन्होंने 15 साल के उम्र में डेब्यू किया था लेकिन जब तेंडुलकर का रिकार्ड बिहार के लाल ने तोड़ तो चर्चा पूरे बिहार में होने लगी ।

वैसे ये उस लायक है की इनको इस रणजी ट्रॉफी में मौका मिल ये बिल्कुल ही डिसर्वे करते हैं रणजी ट्रॉफी खेलना ।

सचिन का रिकार्ड तोड़ा बिहार के लाल ने ?

वैसे वैभव का उम्र अभी 12 साल 284 दिन के है लेकिन वो अभी ही इतना बड़ा कारनामा कर दिखाया है उन्होंने दी ग्रेट सचिन तेंडुलकर का रिकार्ड तोड़ दिया है, क्युकी एक साल के अंदर वैभव ने 49 सेंचुरी मारी जिस वजह से वैभव को रणजी खेलने का मौका मिल वाकही ये खिलरी तारीफ करने के लायक है ।

कौन हैं ‘Vaibhav Suryavanshi’ ?

वैभव सूर्यवंशी बिहार के समस्तीपुर के रहने वाले है जिनका जनम 27 मार्च 2011 में हुआ, जिन्होंने अपने कैरियर का शुरुआत समस्तीपुर से किया है और ये बाय हाथ के तबातोर बलेबाज है, इनके पिता जी एक किसान है और तमाम लेबेल के अलग अलग बीते एक साल में इनके नाम ये रिकार्ड है की 49 सेंचुरी मारी दी जिसके वजह से इनको खेलने का मौका मिल, रणजी ट्रॉफी में ये क्रिकेट बोर्ड के परिसीडेंट साहब के टीम से खेल रहे है । बिहार और मुंबई के मैच में इनको ओपन कराया गया था हालंकी वैभव जलवा रणजी मैच में दिखाई नहीं परा, उन्होंने भले ही  49 सेंचुरी मारी होगी लेकिन वक नैशनल लेबल या कहे की इंटरनेशनल लेबेल पर उनका वो इम्पैक्ट नजर नहीं आया पहली इनिंग में वैभव सूर्यवंशी ने पहली पारी में 19 रन बना के आउट हो गए और इनका बिकेट टीम इंडिया के प्लेयर शिवम दुबे ने लिया और जब दूसरी पारी में गेंदबाजी हुई तो फिर वैभव को खेलने का मौका मिला लेकिन फिर ये अपना कारनामा नहीं दिखा पाए केवल 12 रन बना के आउट हो गए ।

‘Vaibhav Suryavanshi’ के पिता जी क्या बोले ?

Vaibhav Suryavanshi
Vaibhav Suryavanshi Birth place & Date :

उनके पिता जी का कहना है की मैं बहुत खुश हु की मेरा बेटा रणजी मैच खेल रहा है क्युकी 27 मार्च 2011 में जन्मा मेरा लड़का 2024 में रणजी मैच खेल रहा है तो मेरे लिए ये बहुत खुशी की बात है उनके पिता जी का ये कहना है की बच्चा हैं अभी धीरे धीरे मट्युर हो जाएगा । वैभव 5 साल के उम्र से ही क्रिकेट खेल रहे है 7 साल के उम्र के समस्तीपुर के एक अकदमे में जाके खले 3 साल तक वहाँ खेले और उसके बाद 10 साल बाद अपने सिनीऑर के साथ खेले । और आज अब रणजी खेल रहे है तो मुझे खुशी तो हो रही हैं अब आगे देखिए क्या होता है ।

आप इसे भी पढ़ सकते हैं : J J Communication Exposed ?

Telegram Group Join Now
Instagram Group Follow Us

1 thought on “कौन है Bihar का सचिन “Vaibhav Suryavanshi” जिसने 12 साल की उम्र में तोड़ दिया सचिन का रिकार्ड ।”

Leave a Comment