Ram-Lalla Murti: काले रंग या श्यामल ही क्यू बनाई गई रामलला की मूर्ति, क्या है इसके पीछे की वजह जानिए पूरी बात ।

Ram-Lalla Murti: 22 जनवरी को भगवान श्री रामलला की प्राण प्रतिष्ठा होना हैं इस बीच भगवान श्री रामलाल की एक मूर्ति की तस्वीर सामने आई जिसमे भगवान श्री रामलला की मूर्ति काले रंग या श्यामल की दिखाई दे रही है ये मूर्ति देखने के बाद लोगों में बहुत सारे सवाल आ गए हैं जैसे की क्या है इस मूर्ति में खास ये मूर्ति काले रंग या श्यामल की क्यू बनाई गई है तो ये सब जानने की लिए आप मेरे साथ इस पोस्ट में बने रही हैं एक एक बात आइए जानते हैं ।

हाइलाइट

रामलला की मूर्ति काले रंग और श्यामल हैं ।

रामलला की मूर्ति को शिला पत्थर से बनाया गया है ।

शिला पत्थर की बहुत सी गुण है ।

रामलला की मूर्ति की लंबाई 51 इंच हैं ।

Ram-Lalla Murti

जैसे ही रामलला की पहली मूर्ति की छवि सामने आई पूरी दुनिया में शोर सी हो गई चारों तरफ हाहकर सा मच गया, यह तस्वीर में भगवान बाल स्वरूप दिखाई पर रहे है । लेकिन इसी बीच लोगों के मन में बहुत से सवाल आने लगे की आखिर रामलला की मूर्ति को काले रंग या श्यामल से ही क्यू बनया गया ये मूर्ति में आखिर क्या-क्या विशेषता हैं ।

रामलला की मूर्ति काले रंग की क्यू?

रामलला की मूर्ति को काले रंग नहीं बल्कि रामलाल की मूर्ति को शिला पत्थर से बनया गया है जो अपने आप में कई गुणवंता को शबीत करता हैं मन जाता हैं की शिला पत्थर को कृष्ण शिला के नाम से भी जाना जाता है यही कारण है की मूर्ति का रंग काले रंग का दिखाई दे रहा है ।

शिला पत्थर की विशेषता

आपको बात दे की प्रभु श्री रामलला की मूर्ति जिस पत्थर से बनाया गया है उस पत्थर की बहुत सी विशेषता है जैसे की ये पत्थर हजारों सालों तक एकदम वैसा ही रहेगा जैसा उसका आकार दिया गया है और वो अपना रंग बिल्कुल ही नहीं खोता है इस पत्थर के और भी बहुत खास बात है ।

एक और खास बात यह हैं की जब भगवान श्री राम की पूजा दूध से होगी तो जब दूध से प्रभु श्री राम का अभिषेक किया जाएगा तो इस पत्थर की गुण की वजह से दूध में किसी तरह का कोई बदलाव नहीं होगी और इस तरह दूध को पीना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक नहीं होगा ।

भगवान राम की मूर्ति कैसी हैं?

श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के महासचिव चंपत राय जी ने मूर्ति के बारे व्याख्या करते हुए बोले की भगवान श्री राम की ये मूर्ति भगवान के 5 वर्ष के बालक के स्वरूप का है भगवान बालस्वरूप में कैसे थे इस मूर्ति के जरिया दिखने का प्रयास किया गया हैं उन्होंने बोल की ये मूर्ति 51 इंच की है और रामलला की मूर्ति का निर्माण काले पत्थर से किया गया है रामलला की इस मूर्ति में भगवान के सभी अवतरों को भी दर्शाया गया है ।

इसे भी पढे: रामलला की इस मूर्ति में क्या क्या विशेषता है किन किन बातों को ध्यान में रखा गया हैं ।

Ram-Lalla Murti
——Ram-Lalla Murti——

वाल्मीकि जी की रामायण में भी जिक्र?

इस मूर्ति को अरुण योगीराज जी ने बनाया है और उन्होंने स्वामी वाल्मीकि जी के रामायण से प्रेरित होके इस मूर्ति को बनने का कोशिश किया हैं । और उन्होंने बिल्कुल वैसा ही बनाने का कोशिश किया जैसा वाल्मीकि जी के रामायण में जिक्र किया गया प्रभु श्री राम का वो जिस तरह बालस्वरूप में दिखाई परते थे बिल्कुल वैसा ही बनाया गया है प्रभु श्री राम बचपन में बिल्कुल श्यामल दिखाई परते थे । यही वजह है की प्रभु श्री राम की ये मूर्ति काले रंग या श्यामल रंग का हैं ।

Telegram Group Join Now
Instagram Group Follow Us

2 thoughts on “Ram-Lalla Murti: काले रंग या श्यामल ही क्यू बनाई गई रामलला की मूर्ति, क्या है इसके पीछे की वजह जानिए पूरी बात ।”

Leave a Comment